अलगतवादी !!!

अलगाववादी : ये शब्द ही अपने आप में कांग्रेस की राष्ट्रविरोधी मानसिकता को दर्शाता है ! कैसे ? कश्मीर में इस शब्द को कांग्रेस ने उन लोगो के लिए प्रयोग किया जो राष्ट्र की मुख्यधारा के साथ नहीं बल्कि राष्ट्र के दुश्मन नम्बर एक पाकिस्तान के साथ चलना चाहते हैं तथा आतंकियों के समर्थक हैं ! अब जो किसी भी राष्ट्र में आतंकवादियों का समर्थक है उसे अलगाववादी तो कतई नहीं कहा जा सकता बल्कि आतंकियों का समर्थक आतंकी ही कहा जाना चाहिए था परन्तु मात्र एक ऐसे समुदाय के तुष्टिकरण के लिए जो बिना अपने मष्तिष्क का प्रयोग किये दुसरे धर्मो के विनाश की बातें करते हैं, कांग्रेस ने राष्ट्रद्रोहियों के लिए ऐसे शब्दों का प्रयोग किया तथा राष्ट्र की जनता को धोखा दिया ! जो लोग आतंक के समर्थक हैं वो मात्र आतंकी हैं और कुछ नहीं अगर इस नीति पर कश्मीर में कार्य किया जाता तो जो आतंकवाद राष्ट्र को वर्तमान में झेलना पड़ रहा है नंबर एक – उसे झेलना नहीं पड़ता क्योंकि जब मूल ही काट दी जाती है तो जहरीला पौधा स्वतः ही समाप्त हो जाता है दूसरा – इससे राष्ट्र के दूसरे क्षेत्रों में भी सन्देश चला गया कि कांग्रेस राष्ट्र को समाप्त होता देख सकती है परन्तु आतंकियों के समर्थकों को आतंकी नहीं कह सकती, परिणाम जेएनयु में राष्ट्रविरोधी गतिविधियों के कई कई समर्थक बल्कि यूँ कहिये की उसे अंजाम दिलाने वाले दलाल दलों के राष्ट्र में ही राष्ट्र के दुश्मन तथा जाकिर नाईक जैसे राष्ट्रविरोधी लोगो का कई स्थानों पर जन्म ! राष्ट्र को आगे बढ़ने के लिए नई दिशा की आवश्यकता है तथा राष्ट्र के सभी नागरिकों को राष्ट्र सर्वप्रथम सीखने और सिखाने की ! इसके साथ ही उपरोक्त विचारों वाली कांग्रेस को समूल नष्ट करने की , विश्वास कीजिये आतंकवाद नामक जहर भारत से स्वतः ही समाप्त हो जायेगा !!!

#आर्यवर्त

Author: Gautam Kothari (Aaryvrt)

राष्ट्रहित सर्वोपरी जयतु हिन्दुराष्ट्रम वंदे मातरम

One thought on “अलगतवादी !!!”

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s